रविवार, 11 दिसंबर 2011

महफिले शायरी---ब्लॉग पर गज़ल,नज़्म एकल शेर लिखने के शौक़ीन शायरों का तह दिल से स्वागत है

दोस्तो,
            शायरी की किसी भी विधा में शौक रखने वाले शायरों का  इस ब्लॉग पर तह दिल से स्वागत है !

2 टिप्‍पणियां:

  1. नया साल आपको भी ढेर सारी खुशियाँ दे!
    नये साल के पायदान से बटोरेंगे हम मिलकर खुशियों को और आपके गजलों की महफ़िल इसी तरह सुसजित होकर सजा रहे|

    उत्तर देंहटाएं
  2. मुकेश जी,
    आपने जो दिली जजबात ज़ाहिर किए हैं,उसके लिये तह दिल से शुक्रिया और नये साल की मुबारकबाद !

    उत्तर देंहटाएं